October 4, 2022

14 अगस्त ‘विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस’ के रूप में घोषित, प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर किया ऐलान

14th August declared as 'Partition Vibhisika Memorial Day', announced by Prime Minister by tweeting

क्षितिज यादव की रिपोर्ट

दिल्ली। हमारा देश स्वतंत्रता की 75 वीं वर्षगांठ मनाने जा रहा है। ऐसे में जब स्वतंत्रता दिवस नजदीक आता है, तो 1947 के विभाजन संबंधी वह घाव हमेशा ताजे हो जाते हैं। हम अंग्रेजों से अपने देश को आजाद तो कर लिए पर जाते-जाते 14 अगस्त 1947 को अंग्रेज विभाजन का घाव हमें देकर चले गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज उस दिन को याद करते हुए अपने टि्वटर हैंडल पर लिखा;-“देश के बंटवारे के दर्द को कभी भुलाया नहीं जा सकता।

नफरत और हिंसा की वजह से हमारे लाखों बहनों और भाइयों को विस्थापित होना पड़ा और अपनी जान तक गंवानी पड़ी। उन लोगों के संघर्ष और बलिदान की याद में 14 अगस्त को ‘विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस’ के तौर पर मनाने का निर्णय लिया गया है।”

PartitionHorrorsRemembranceDay का यह दिन हमें भेदभाव, वैमनस्य और दुर्भावना के जहर को खत्म करने के लिए न केवल प्रेरित करेगा, बल्कि इससे एकता, सामाजिक सद्भाव और मानवीय संवेदनाएं भी मजबूत होंगी।

भुलाए नहीं भूलता वो दिन

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने ट्वीट के माध्यम से 14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस के रूप में मनाने का ऐलान करके इससे एक नया रूप जरूर दे दिया है। अंग्रेजों ने हमारे देश का बंटवारा करके हमें एक ऐसे खंडहर में धकेला था जिसे आज भी भारत वासी भूल नहीं पाते। तत्कालीन अखबारों को खंगालने पर पता चलता है, कि भारत से पाकिस्तान जाने वाली ट्रेनों में इधर से लोग बैठते थे तो उधर से लाशें वापस आती थी। वह भयावह मंजर आज भी हमारे देशवासियों के दिल पर एक लकीर खींच
जाता है।

Leave a Reply