Bihar Panchayat Election: Panchayat elections may be postponed again in Bihar, the reason may be flood

बिहार पंचायत चुनाव 2021: बिहार में आगामी चुनाव को लेकर असमंजस है । संभावित तिथि को आगे बढ़ाने की बात चल रही है। बिहार में 17 से अधिक जिलों में आए हुए बाढ़ को देखते हुए पंचायत चुनाव को ट्टाल् दिया गया है। राज्य चुनाव आयोग सितंबर से नवंबर तक चुनाव करा देना चाहता था, लेकिन इस कार्य में सबसे बड़ी बाधा बिहार के अधिक राज्यों में आई हुई बाढ़ है।

जानकारी के अनुसार राज्य सरकार चुनाव की तिथियों को लेकर जिलाधिकारीयों से परामर्श करेगी। आपको बता दें कि जिलों से आई रिपोर्ट के मुताबिक चुनाव को 10 चरणों में कराए जाने की मांग है।चुनाव आयोग ने बताया है कि चुनाव की तारीखों में फेरबदल हो सकती है, लेकिन हमारी पूरी कोशिश रहेगी कि नवंबर तक चुनाव प्रक्रिया को खत्म कर लिया जाए। पिछले दिनों एक गैर कानूनी खबर यह चल रही थी कि, 20 सितंबर से 25 नवंबर तक 10 चरणों में पंचायत चुनाव को पूरी कर ली जाएगी।

हालांकि चुनाव के अधिकारी तारीख राज्य चुनाव आयोग ही जारी करता है और उसने अभी तक कोई भी संभावित तारीख तय नहीं किया है लेकिन राज्य चुनाव आयोग ने अपने बयान में साफ-साफ बताया है कि वह बिहार में पंचायत चुनाव को नवंबर तक निपटा देगा।

अनुमान से अधिक असर दिखा चुकी है बिहार मे आई हुई बाढ़

करीब 14 साल बाद भागलपुर-किऊल रेलखंड पर बाढ़ के कारण यातायात बंद करना पड़ा है। पटना के पास गंगा अपने रिकार्ड स्‍तर तक पहुंचने से कुछ ही सेंटीमीटर नीचे रह गई। हथीदह और कई इलाकों में गंगा ने पुराने रिकार्ड तोड़ दिए। गंगा के अलावा गंडक और कोसी जैसी नदियों में अब भी काफी पानी है। बिहार के 17 राज्य बाढ़ के पानी में पूरी तरह से जलमग्न हो गये हैं, ऐसे में चुनाव कराना उचित भी नही है, और परेशानीयां भी काफी आयेंगी। इससे अच्छा है, कि बाढ़ में अपना सबकुछ गवां देने वाली गरीब जनता की मदद की जाए।

Leave a Reply