November 28, 2022

Credit Card Users जरूर पढ़ ले ये खबर, एकस्ट्रा चार्ज को लेकर बदल गए ये नियम

भारत का सबसे बड़ा बैंक, State Bank of India कई तरह के Credit Card जारी करता है. भारतीय स्टेट बैंक की तरफ से क्रेडिट कार्ड पर ग्राहकों को कई तरह के डिस्काउंट और कैशबैक ऑफर (Discounts Or Cashback Offers) भी दिए जाते हैं. लेकिन बैंक अपने ग्राहकों से इन क्रेडिट कार्ड के इस्तेमाल के बदले कुछ चार्ज (SBI Credit Card charges) भी लेता है.

लेट पेमेंट चार्ज

EMI सहित सभी ट्रांजेक्शन के बकाए का अगर भुगतान लेन-देन की तारीख से लेकर आखिरी तारीख तक नहीं किया गया तो पूरे महीने का ब्याज आपको देना होगा. अगर कार्डधारक (Credit Card Holder) ने तारीख से पहले पूरा भुगतान नहीं किया है यानी थोड़ी रकम ही दी है तब भी आपको चार्ज देना होगा.

कैश निकालने पर चार्ज

क्रेडिट कार्ड धारक (Credit Card Holder) को किसी आपातकाल में कैश की जरूरत पड़ने पर कैश निकलने (Cash Withdrawal) की सुविधा दी गई है. भारतीय स्टेट बैंक (State Bank of India) इस सुविधा के बदले यानी निकासी पर चार्ज वसूलता है.

इसकी जानकारी क्रेडिट कार्ड धारक (Credit Card Holder) को अगले महीने के स्टेटमेंट (Credit Card Monthly Statement) में दिया जाता है. अगर क्रेडिट कार्ड होल्डर (Credit Card Holder) विदेश में भी निकासी करता है तो इसके बदले भी उसे एक्स्ट्रा चार्ज देना होता है.

सालाना चार्ज
फ्री क्रेडिट कार्ड (Free Credit Card) का ऑफर साल भर के अंदर खत्म हो जाता है. बाद में क्रेडिट कार्ड के प्रकार और क्रेडिट कार्ड लिमिट (Credit Card Limit) को देखते हुए उस पर सालाना फीस (Yearly Charge) वसूली जाती है. अलग-अलग बैंको द्वारा अलग-अलग चार्ज वसूले जाते हैं. ये चार्जेज 500 से लेकर 3,000 रुपए तक हो सकती है. आपको बता दे, कुछ बैंक ऐसे भी हैं जो इस चार्ज को नहीं वसूलते हैं.

Leave a Reply