December 8, 2022

E Shram Card Bhatta 2022 : ई-श्रम कार्ड लाभार्थी के खातों में मिले 2000 रुपये की राशि, ऐसे चेक करें ऑनलाइन

E Shram Card Bhatta 2022 : खुशखबरी ऐसे श्रमिक भाई जिन्होंने अपना ई-श्रम कार्ड (E Shram Card) में पंजीकरण (E Shram Registration) करा रखा है उनके खाते में ₹2000 की राशि मिलनी शुरू हो चुकी है. अगर आपने अभी तक अपना ई-श्रम कार्ड (E Shram Card) आवेदन प्रक्रिया पूर्ण ने किया है तो जल्द से जल्द जाकर अपना आवेदन कर ले. पहले से पंजीकृत श्रमिक भाइयों के खाते में ₹2000 की राशि पहुंच चुकी होगी.

कई सारे लोगों के खाते में ₹2000 की राशि भेजी गई है जल्द से जल्द जाकर आप अपने खातों का विवरण अवश्य चेक करें. अगर आपने अभी तक अपने अकाउंट की जानकारी नहीं ली है तो भी आप चाहे तो ऑनलाइन के माध्यम से अपना स्टेटस चेक (E Shram Status Check) कर सकते हैं जहां पर आपको यह स्पष्ट हो जाएगा कि आपके खाते में श्रमिक वाला पैसा आया है या नहीं. इसके लिए संबंधित विवरण उपलब्ध है.

ई-श्रम कार्ड का पैसा कैसे चेक करें?

  • आप अपने Bank Account से लिंक Mobile Number के मैसेज से अपना बैलेंस जांच सकते हैं।
  • बैंक के Toll Free Number से आप अपने अकाउंट की जानकारी ले सकते हैं|
  • अपने बैंक शाखा जहाँ आपका खाता है वहां जाकर आप अपना  –श्रम का पैसा चेक कर सकते हैं।
  • Bank Passbook की एंट्री करवा कर।

क्या-क्या मिलती हैं सुविधाएं?

इस योजना के तहत लोगो को 2 लाख रुपए तक का दुर्घटना बीमा दिया जाता है. स्कीम के जरिए लाभार्थियों को आगे चलकर पेंशन का फायदा देने की भी तैयारी है. गर्भवती महिलाओं को भरण पोषण के लिए खर्चा दिया जाएगा. मकान बनवाने के लिए सरकार की तरफ से धनराशि दी जाएगी. बच्चे की पढ़ाई के लिए सरकार आर्थिक मदद देगी.

खाते में पैसा ना आए तो क्या करें

ऐसे लाभार्थी के खाते में ₹2000 की राशि नहीं आया है. वैसे ज्यादा अपने खाते में आधार कार्ड लिंक करा लें | इसके अलावा किसी भी साइबर कैफे या कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर अपने E Shram Card Status Check प्रक्रिया वेरीफिकेशन करा सकते हैं. इसके तो एक नीचे दिए गए लिंक की मदद से आप लोग आसानी से E Shram Card का पैसा आपके खाते में आया है या नहीं जानकारी चेक कर सकते हैं.

इन्हें मिल रहा फायदा
ई-श्रम कार्ड (e-Shram Card) का फायदा अंसगठित क्षेत्र के मजदूरों को मिल रहा है. जिसमें रेहड़ी-पटरी वाले, खोमचा लगाने वाले, रिक्शा और ठेला चालक, नाई, धोबी, दर्जी, मोची, फल, सब्जी और दूध बेचने वाले लोग शामिल हैं. इसके अलावा घर बनाने जैसे काम में लगे श्रमिक भी शामिल हैं.

Leave a Reply