August 5, 2021

निकाह के दौरान अरबी शब्द बोलने में अटका दूल्हा,पैन कार्ड पर असली मजहब का पता चला

जूही सिंह राजपूत

मामला उत्तर प्रदेश के महाराजगंज जिले से है,जहां कोल्हई थाना इलाके में रविवार के दिन निकाह कराते समय हंगामा मच गया। दरअसल, कोल्हई इलाके की एक लड़की को सिद्धार्थ नगर के एक युवक के साथ सोशल मीडिया पर दोस्ती हो गई। धीरे-धीरे यह दोस्ती प्यार में बदल गई और लड़का लड़की के घर भी आने-जाने लगा था। करीब 2 साल बाद लड़की के परिवार वालों ने शादी के लिए मंजूरी दे दी।

लेकिन शादी के दौरान जब मौलवी निकाह पढवा रहा था तो कुछ अरबी शब्दों को बोलने में दूल्हा फंस गया। जिससे लोगों को शक हुआ। पूछताछ पर असलियत सामने आई। लड़का दूसरे मजहब का निकला। जिसके बाद लोगों ने दूल्हे की पिटाई शुरू कर दी। जब भागने की कोशिश की,तो घरवाले ने कुछ बारातियों को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया।

पता होने के बावजूद लड़की ने नहीं बताया सच

लड़के के हिंदू होने की बात लड़की पहले से जानती थी लेकिन उसने अपने घरवालों को नहीं बताया था लड़का उससे मुस्लिम रीति-रिवाज से शादी करने के लिए तैयार हो गया। शादी में कम लोग आएँगे की बात कहकर 5 लोगों को ही बारात में लाने के बाद कहीं रविवार के दिन शादी करने दूल्हा लड़की के घर आया और जब अरबी शब्दों पर अटकने लगा तब मौलवी को शक हुआ जिसके बाद वहां हंगामा मच गया।


बता दे लड़की के घर वाले दूल्हे के यहां नहीं गए थे और इसलिए सच्चाई उनके सामने नहीं आ सकी थी। पूछताछ के दौरान लड़के की तलाशी करने पर उसका पैन कार्ड निकला। जिस पर तस्वीर तो उसी की थी,लेकिन मजहब अलग था। मामले की जानकारी पाकर एसआई लवकुश मौके पर पहुंचे।

दुल्हा और बारात में आए कुछ लोगों को थाने ले जाया गया। इधर लड़की देर शाम तक उसी लडके से शादी करने की ज़िद पकड़ कर बैठी रही। युवकों का कहना है कि वह दूल्हे का दोस्त है। वहीं लड़के के परिजन कह रहे हैं कि इस शादी को लेकर उन्हें किसी भी तरह की जानकारी नहीं है।प्रभारी निरीक्षक दिलीप कुमार शुक्ला ने कहा-यदि पीड़ित पक्ष तहरीर देगा,तब इस पर केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply