वाराणसी: (Varanasi Flood News) उत्तर प्रदेश को करीब दो दर्जन जिलों के एक हजार से ज्यादा गांवों में जल प्रलय देखने को मिल रहा है। बाढ़ का कहर बढ़ता जा रहा है। सबसे ज्यादा प्रभावित पूर्वी यूपी के जिले हैं। यहां काशी के कई इलाकों में क्या मंदिर, क्या श्मशान, क्या मकान, सब जलमग्न हो गए हैं।

लोगों को श्मशान घाटों के छत पर अंतिम संस्कार करना पड़ रहा है। कमोबेश यही स्थिति पूर्वी यूपी के अन्य जिलों में बनी हुई है। इसका जायजा लेने के लिए खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर मंडल के दौरे पर हैं। बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत पहुंचाने का काम खुद उन्होंने अपने हाथों में ले लिया है।

गुरुवार को वाराणसी तो शुक्रवार को उन्होंने गाजीपुर बलिया के बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों को हवाई सर्वेक्षण किया व खुद बाढ़ पीड़ितों से मिल उन्हें मदद पहुंचाई। संकट के बीच मौसम विभाग का अनुमान है कि 15 अगस्त पूर्वी यूपी के कई हिस्सों में भारी बारिश होगी।

Leave a Reply