November 27, 2021

महापंचायत : किसान नेताओं ने सरकार के खिलाफ भरी हुंकार उठाए किसानों के मुद्दे

Mahapanchayat: Farmer leaders raised slogans against the government, farmers' issues

हिमांशु सिंह की रिपोर्ट

मुजफ्फरनगर: उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले राजनीतिक दलों के मुकाबले किसान राजनीति में हलचल ज्यादा देखने को मिल रही है। जहां गाजीपुर बॉर्डर समेत दिल्ली के चारों ओर तीन कृषि कानूनों और किसानों की समस्याओं को लेकर किसान 10 महीने से धरनारत हैं। इसी को लेकर प्रदेश में दो तरह के किसान संगठन सामने आए हैं।

एक संगठन सरकार के खिलाफ किसानों की आवाज बुलंद करने का काम कर रहा है। वहीं, दूसरा किसानों की आवाज कम सरकार के पक्ष में खड़ा है। 5 सितंबर संयुक्त किसान मोर्चा की किसान महापंचायत के बाद 26 सितंबर को को हिंद मजदूर किसान समिति की महापंचायत हुई। इस किसान महापंचायत में हजारों की संख्या में किसानों ने भाग लिया। इस दौरान किसान नेताओं किसानों के कई मुद्दे उठाए।

मंच पर बोलते हुए आध्यात्मिक किसान नेता चंद्रमोहन महाराज ने सरकार के खिलाफ आवाज बुलंद करते हुए कहा कि सरकार किसानों की अनदेखी नहीं कर सकती। किसान जीवन में ट्रैक्टर केवल एक दो बार ही खरीद सकता है। इसलिए उन्हें चाहिए कि किसान का ट्रैक्टर कम से कम 100 साल तक चलता रहे ।

Leave a Reply