September 25, 2021

मुजफ्फरपुर : दूसरी सोमवारी को बाबा गरीबनाथ धाम में पसरा रहा सन्नाटा, श्रद्धालुओं में दिखी नाराजगी

मणि भूषण शर्मा की रिपोर्ट

मणि भूषण शर्मा की रिपोर्ट

मुजफ्फरपुर: उत्तर बिहार के देवघर नगरी कहे जाने वाले मुज़फ़्फ़रपुर का बाबा गरीब नाथ मंदिर में दूसरी सोमवारी को नही दिखा श्रद्धालुओं का सैलाब, कोरोना गाइडलाइन के तहत प्रशासनिक व्यवस्था भारी पड़ती दिख रही है. मंदिर के दोनों ही रास्ते की ओर प्रशासनिक बैरिकेडिंग के कारण भक्तों को नहीं मिल रही मंदिर के पास में अंदर जाने की अनुमति. जिस कारण भक्तों में काफी नाराजगी देखने को मिली.

बता दे कि कोरोना के गाइडलाइन के तहत जिला प्रशासन के द्वारा दूसरी सोमवारी को तमाम पुख्ता इंतजाम और सुरक्षा मापदंडों का आधार व्यवस्था किया गया. श्रद्धालुओं ने बताया कि जहां एक ओर को कोरोना काल में चुनाव और तमाम तरह के नियमों की धज्जियां उड़ाई गई ऐसे में बाबा के आस्था के साथ भक्तों को रोका जाना ठीक नहीं. बता दें कि बिहार में 6 अगस्त कोरोना के नियम के तहत लॉकडाउन विशेष रूप में धार्मिक संस्थानों पर पाबन्दी लगाई गई है.

बाबा गरीबनाथ मंदिर के पुजारी अभिषेक पाठक ने बताया कि भगवान पर तालाबंदी उचित नहीं है यह श्रद्धालुओं के साथ महज छल और कुछ नहीं साथ ही मंदिर के अंदर कम से कम करो ना काल में जो वैक्सीन ले चुके हैं उनकी प्रवेश सुनिश्चित की जानी चाहिए जबकि जिन्होंने कोरोना वैक्सीन नहीं लिया है उनको प्रवेश पर रोक लगाई जानी चाहिए ऐसे में कोरोना के वैक्सीनेशन को भी बढ़ावा मिलेगा इसके साथ ही स्थानीय दुकानदार जो मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं से अपने सामानों को बेच कर अपना जीवन यापन करते हैं उनके लिए भी कहीं ना कही पुराना नियम का शक होना भारी पड़ रहा है.

Leave a Reply