December 8, 2022

Online Order किया Laptop, पैकेट से निकला साबुन, कंपनी बोली अब नहीं होगा रिटर्न

Big Billion Days Sale 2022 : फेस्टिव सीजन (Festival Season) शुरू हो चुका है और साथ ही ई-कॉमर्स वेबसाइटों (E Commerce Website) की बंपर सेल (Bumper Sale) भी शुरू हो चुकी है। ऐसे में चीप एंड बेस्ट सामान की खरीददारी करने में कई कस्टमर्स को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। ऐसा ही एक मामला IIM अहमदाबाद के एक स्टूडेंट का है, जिसने फ्लिपकार्ट (Flipkart) से 50 हजार का लैपटॉप ऑर्डर (Online Laptop Order) किया था, लेकिन कंपनी ने उसे घड़ी साबुन भेज दिया।

बिजनेस टुडे (Business Today) की रिपोर्ट के मुताबिक स्टूडेंट का नाम यशस्वी शर्मा है और उसने फ्लिपकार्ट (Flipkart) पर चल रहे बिग बिलियन डेज सेल (Big Billion Days Sale 2022) से अपने पिता के लिए लैपटॉप ऑर्डर (Online Laptop Order) कराया था। उसने सोशल मीडिया (Social Media) पर लिखा- मैंने अपने पिता के लिए लैपटॉप ऑर्डर किया था, लेकिन फ्लिपकार्ट (Flipkart) ने घड़ी साबुन भिजवा दिया। मैने कस्टमर केयर से शिकायत की तो उसने अपनी गलती मानने से इनकार कर दिया।

इतना ही नहीं कस्टमर केयर (Customer Care) ने CCTV के सबूत भी मानने से मना कर दिया। फ्लिपकार्ट के सीनियर कस्टमर केयर एग्जिक्यूटिव ने यशस्वी से साफ शब्दों में कह दिया- नो रिटर्न पॉसिबल (No Return Possible)। यशस्वी ने पोस्ट में फ्लिपकार्ट के CEO कल्याण कृष्णमूर्ति और केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल को भी टैग किया।

यशस्वी के पिता को ओपन बॉक्स कॉन्सेप्ट की नहीं थी जानकारी
सोशल मीडिया (Social Media) पर यशस्वी ने अपने पिता की गलती का भी जिक्र किया। उसने लिखा कि जब डिलीवरी बॉय (Delivery Boy) सामान डिलीवर करने आया तब उसके पिता से एक गलती हो गई। गलती यह कि उसके पिता को ‘Open Box’ डिलीवरी के बारे में पता नहीं था। यशस्वी ने बताया कि डिलीवरी लेते समय रिसीवर को डिलीवरी बॉय (Delivery Boy) के सामने ही पैकेट खोलना पड़ता है और आइटम देखने के बाद ही OTP देना होता है।

उनके पिता को लगा कि डिलीवरी लेने पर OTP देना होता है जो कि अधिकांश प्रीपेड डिलीवरी (Prepaid Delivery) के मामले में होता है। यशस्वी ने कहा कि उसके पास अनबॉक्सिंग की CCTV फुटेज है। उसने आगे लिखा कि डिलीवरी बॉय ने अपने कस्टमर को ओपन बॉक्स कॉन्सेप्ट के बारे में क्यों नहीं बताया? बाद में अनबॉक्सिंग से पता चला कि अंदर कोई लैपटॉप नहीं बल्कि घड़ी साबुन है।

Input : Dainik Bhaskar

Leave a Reply