क्षितिज यादव की रिपोर्ट

दिल्ली। अगर आप दोपहिया या चार पहिया वाहनों के चालक हैं और आप बार-बार चालान कटने से परेशान हो जाते हैं। आपके लिए इस समय एक सुकून भरी खबर है। दरअसल अब तक यदि आप यातायात नियमों का उल्लंघन करते थे। तो यातायात पुलिसकर्मी आपका फोटो खींचकर गाड़ी का चालान कर दिया करते थे। ऐसे चालान होने पर कई बार हम लोगों को पता भी नहीं चलता था कि हमने यातायात के किस नियम का उल्लंघन किया है और हमारा चालान कट जाता था।

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय द्वारा जारी एक अधिसूचना के मुताबिक अब कटने वाले चालान का नोटिस 15 दिन के अंदर भेजना होगा। इस संशोधित मोटर अधिनियम के तहत यह भी बताया गया कि सबूतों को तब तक बचाए रखना होगा जब तक इसका निपटारा ना हो जाए।

फोटो खींचकर नहीं कर सकते चालान

यातायात संबंधी नए दिशा निर्देशों के मुताबिक अब यातायात पुलिसकर्मी किसी भी वाहन का सिर्फ फोटो खींचकर चलान नहीं कर सकते। अब यातायात पुलिसकर्मियों को चालान काटने के साथ-साथ उसका वीडियो भी बनाना होगा। उस वीडियो को मामले के निपटारे तक रिकॉर्ड में रखना होगा। इसी के साथ पहले चालान काटने के बाद उसका नोटिस पहुंचने में महीनों लग जाते थे।

जिससे सरकार को राजस्व भी मिलने में काफी देरी होती थी। परंतु अब ऐसा नहीं होगा नोटिस 15 दिन के भीतर भेज दिए जाएंगे। दिल्ली यातायात पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक कई चौराहों पर सीसीटीवी एवं संकेतक लगाए जाएंगे। हालांकि पहले से भी कई चौराहों पर सीसीटीवी कैमरे लगे हैं।

सीसीटीवी की मदद से पुलिसकर्मी रखेंगे अभद्र व्यवहार पर नजर

यातायात संबंधी नए नियमों के बाद इलेक्ट्रानिक इंफोर्समेंट डिवाइस में स्पीड कैमरा, क्लोज-सर्किट टेलीविजन कैमरा, स्पीड गन, बाडी वियरेबल कैमरा, डैशबोर्ड कैमरा, आटोमैटिक नंबर प्लेट रिकाग्निशन, वेट-इन मशीन और ऐसी कई अन्य तकनीक शामिल होंगे। इन सभी अत्याधुनिक तकनीकों का इस्तेमाल करके पुलिसकर्मी अब वाहन चालकों के अभद्र व्यवहार को भी रिकॉर्ड कर सकेंगे। आपको बता दें इससे पहले पुलिस कर्मियों द्वारा फोटो खींचकर चालान काटने पर वाहन चालक पुलिस के साथ अभद्र व्यवहार किया करते थे।

Leave a Reply