Ration Card New List : जैसा कि खबरों के मुताबिक से पता चल रहा है हमारे देश के सबसे ज्यादा जनसंख्या वाला राज्य उत्तर प्रदेश में सभी गरीब लोग एवं जो आर्थिक रूप से पिछड़े हुए लोग हैं और जो मेहनत मजदूरी करके अपना जीवन यापन करते हैं इन सभी व्यक्तियों के लिए केंद्र सरकार ने बहुत बड़ा कार्य किया है.

जो हम राशन कार्ड के रूप में आज देखते हैं। सरकार ने इन सभी लोगों के लिए मुफ्त राशन कार्ड योजना के तहत एक अति आवश्यक दस्तावेज के रूप में इसे दिया है। जिसके अंतर्गत इन सभी लोगों को मुफ्त में अनाज प्रदान किया जाता है यह राशन कार्ड पूरे देश के गरीब और आर्थिक रूप से पिछड़े हुए लोगों के लिए बहुत महत्वपूर्ण दस्तावेज के रूप में होता है।

आइए जानते हैं राशन कार्ड की नई सूची कैसे जांच करें

राशन कार्ड की सूची चेक करने के लिए हम इसे आप को छह चरणों में विस्तारपूर्वक बताएंगे तो आइए जानते हैं

  • पहला चरण– आपको राशन कार्ड की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • दूसरा चरण–फिर आपको उस वेबसाइट के लिंक को प्रेस करना होगा तत्पश्चात आपके सामने पेज खुलेगी।
  • तीसरा चरण–आप उस पेज में एक एन एफ एस ए की वेरिफिकेशन लिस्ट का ऑप्शन दिखाई देगी उसे प्रेस करें।
  • चौथा चरण–प्रेस करने के बाद एक फॉर्म के रूप में खुलेगी जिसमें कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां मांगी जाएगी आप उसे सावधानी से भरे।

  • पांचवा चरण–जैसे कि आप फॉर्म सही-सही भर देंगे उसके बाद आपको एक कैप्चा कोड आएगी उससे बाद फिर नीचे सबमिट का बटन दबाएं।
  •  छठा चरण– तत्पश्चात आपके फोन या कंप्यूटर जैसे उपकरणों के स्क्रीन पर आपके राशन कार्ड  को दिखाई जाने लगेगी। जिसमें आप अपना नाम भी देख सकते हैं।

क्या होता है एपीएल कार्ड

यह कार्ड वैसे लड़कियों को दिया जाता है  जो गरीबी रेखा के ऊपर अपना जीवन व्यतीत करते हैं इसलिए इसे एपीएल कार्ड कहा जाता है। एपीएल का फुल फॉर्म- एबोव प्रॉपर्टी लाइन होता है।

क्या होता है बीपीएल कार्ड

यह कार्ड वैसे  व्यक्तियों को प्रदान किया जाता है जो बहुत ही गरीब अर्थात आर्थिक रूप से पिछड़े हुए लोग या यूं कहा जाए तो आर्थिक रूप से निचले स्तर पर होते है। तथा ऐसे  कार्ड लाभार्थियों के लिए उसके परिवार की सालाना कमाई या आय ₹1000 से अधिक नहीं होनी चाहिए।

इसी राशन कार्ड अर्थात बीपीएल कार्ड से ही इस योजना के लाभार्थी किराना दुकान से अपने सामान ₹1 प्रति केजी कम रूप से अनाज खरीदते हैं। बीपीएल का फुल फॉर्म- बिलोव प्रॉपर्टी लाइन होता है। 

क्या होता है अंत्योदय कार्ड

क्या राशन कार्ड  हमारे देश के उन परिवारों को प्रदान किया जाता है जो बीपीएल कार्ड के लाभार्थियों से भी ज्यादा गरीब है अर्थात कहा जाए तो जो परिवार अत्यंत गरीब होते हैं, जिसके पास आय का कोई स्रोत नहीं होता है। बिल्कुल गरीबी रेखा के निचले स्तर पर होते हैं। और यहां तक कि मैं आपको बता देना चाहता हूं राशन कार्ड लोगों के इनकम के अनुसार प्रदान किए जाते हैं।

राशन कार्ड की लिस्ट चेक करने के लिए किन दस्तावेजों की जरूरत पड़ती है

  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • आय प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • बैंक पासबुक
  • वोटर कार्ड
  • बिजली का बिल
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पानी अथवा गैस का बिल

राशन कार्ड धारकों के लिए निकल कर आ रही है बड़ी खबर किए जा रहे हैं राशन कार्ड

मैं राशन कार्ड धारकों को यह बता देना चाहता हूं कि सरकार द्वारा उठाया गया है एक नया कदम जिसमें कैंसिल की जा रही है राशन कार्ड आइए जानें क्या है मामला विस्तार पूर्वक

राशन कार्ड धारकों को बता देना चाहता हूं कि सरकार ने जिन जिन लोगों का राशन कार्ड रद्द किए हुए हैं उनका लिस्ट की भी घोषणा कर दी गई है। दरअसल हमारे देश के 1 राज्य बिहार से यह खबर निकल कर आ रही है कि वहां के सरकार राशन कार्ड को लेकर पूरी एक्शन में आ चुकी है। बात यह है कि बिहार में राशन कार्ड की योजना भ्रष्टाचार और फर्जीवाड़ा के मामले में बहुत आगे निकल रहे हैं।

इसी को देखते हुए वहां की सरकार ने सख्त एक्शन लेते हुए जांच के आदेश दिए और जांच का कार्य आरंभ भी हो गई। उसी दौरान बिहार के फेमस जिलों में से एक जिला शेरघाटी से यह खबर निकल कर आ रही है कि वहां 12 हजार से अधिक ऐसे राशन कार्ड की जांच हुई है जो लोग अपात्र नहीं है और फर्जी रूप से बनाया है और इन सब लोगों का राशन कार्ड सरकार की जांच टीम ने जांच कर रद्द् अथवा कैंसिल करने का कार्य आरंभ कर चुकी है।

यहां तक कि कार्ड को रद्द करने से पूर्व कार्ड धारक को सरकार द्वारा एक सूचना भी भेजा गया है और  उनसे जवाब की मांग हुई है।

राशन कार्ड को लेकर केंद्र सरकार ने लागू किया नया नियम

राशन कार्ड धारकों के लिए अभी अभी एक नया नियम केंद्र सरकार के द्वारा लाया गया है। सरकार का मानना है कि देश भर में ऐसे राशन कार्ड धारक है जो इस योजना का पात्र के काबिल नहीं है और वह सब पूर्ण रूप से लाभ उठा रहे हैं।

जबकि देखा जाए तो सच्चाई यह है कि इन लोगों के कारण गरीब और पैसों की तंगी से जूझने वाले लोग अथवा मेहनत मजदूर को इस योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। तो सरकार ने इसी समस्या को देखते हुए एक नया नियम लागू करने जा रही है जिसके तहत जो लोग सक्षम नहीं है इस योजना के लाभ के लिए उन्हें बर्खास्त कर दिया जाएगा।

Leave a Reply