August 5, 2021

NDA की परीक्षा मे सफल होकर लेफ्टिनेंट बनें शुभम,पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए पठानकोट कराई पहली पोस्टिंग

रमेश कुमार पांडेय की रिपोर्ट

रमेश कुमार पांडेय की रिपोर्ट

बक्सर। महर्षि विश्वामित्र की धरती पर जन्में होनहारों ने इन दिनों अपनी कामयाबी से बक्सर जिले का पताका पूरे देश में फहरा दिया है। दरअसल,पिछले कई दिनों से लगातार देश के विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में जिले के अधिकतर छात्रों का परफॉर्मेंस बेहतर आ रहा है।फिर चाहे वो बिहार लोक सेवा आयोग हो या फिर एनडीए. सभी परीक्षाओं में जिले के प्रतिभागियों का अव्वल स्थान प्राप्त हो रहा है।

इसी क्रम में ब्रह्मपुर प्रखंड क्षेत्र के बगेन गाँव निवासी शमशेर बहादुर सिंह उर्फ मुन्ना सिंह एवं माता सोना सिंह के छोटे पुत्र शुभम कुमार सिंह ने पहले ही प्रयास में एनडीए की परीक्षा पास कर लेफ्टिनेंट बनकर अपने खानदान सहित पूरे जिले का नाम रौशन किया है।आपको बता दें कि लेफ्टिनेंट बने शुभम कुमार सिंह की पारिवारिक पृष्ठभूमि सामाजिक एवं राजनीतिक रही है।

शुभम सिंह अस्सी के दशक के क्रांतिकारी नेता सह जगदीशपुर विधायक स्व. वीर बहादुर सिंह एवं प्रखर समाजसेवी स्व. सूर्यकुमार सिंह के पोते बताएं जाते हैं।वही शुभम कुमार सिंह बगेन गाँव के उस प्रतिष्ठित परिवार से तालुक रखते हैं जिस परिवार ने समाज कल्याण के लिए स्वास्थ्य उपकेंद्र और बगेन थाना के लिए जमीन दान दी है।

कल से ही शुभम सिंह के लेफ्टिनेंट बनने पर उन्हें और उनके परिवार को बधाइयां देने वालो की तांता लगा हुआ है।इस सम्बंध में अधिक जानकारी देते हुए शुभम के चाचा व भाजपा के जिला महामंत्री सह क्षत्रिय महासभा के जिलाध्यक्ष इंद्रजीत बहादुर सिंह ने बताया कि उनके भतीजे शुभम सिंह दो भाइयों में छोटे है बड़े भाई विश्वजीत सिंह का अपना व्यपार है। उन्होंने बताया कि शुभम का प्रारम्भिक शिक्षा बक्सर डीएवी स्कूल से कक्षा पांचवी तक हुई उसके बाद वे राजस्थान के कोटा चले गए जहाँ से सैनिक स्कूल में प्रवेश पाने के लिए तैयारियां शुरू की।

इसके बाद उन्होंने एंट्रेंस एग्जाम में बेहतर प्रदर्शन करते हुए पूरे देश में सत्रहवाँ स्थान प्राप्त कर गुजरात के जामनगर स्थित सैनिक स्कूल में दाखिला लिया। यहाँ से उन्होंने मैट्रिक और इंटरमीडिएट परीक्षा निकलने के बाद एनडीए की तैयारी शुरू की। वही एनडीए पास करने के बाद पुणे में तीन साल की ट्रेनिंग और एक वर्ष देहरादून में ऑफिसर ट्रेनिंग पूरी करने के बाद कल यानी 12 जून को लेफ्टिनेंट बने।

चुनु सिंह ने बताया कि लेफ्टिनेंट बनने के बाद पहली बार उनके भतीजे शुभम का आगमन गृह जिला बक्सर में 15 तारीख को होने जा रहा है जिनके भव्य स्वागत के लिए तैयारियां जोरों पर है।वही उन्होंने एक बात और बताई कि उनके भतीजे ने लेफ्टिनेंट बनने के बाद भारत-पाकिस्तान के बॉर्डर पठानकोट में अपनी इच्छा अनुसार पोस्टिंग कराई है ताकि देश के दुश्मनों को सबक सिखा सकें।

उन्होंने बताया कि शुभम की उपलब्धि पर बधाई देने वालो में डुमराँव राज परिवार के महाराज चन्द्रविजय सिंह एवं मान विजय सिंह,रेडक्रॉस चेयरमैन डॉ आशुतोष सिंह,शिक्षविद डॉ रमेश सिंह,राजपुर विधायक विश्वनाथ राम,कुँवर विजय सिंह,भाजपा जिला उपाध्यक्ष मनोज पान्डेय,प्रोफेसर बलराज ठाकुर, मनोज त्रिगुण,ब्रह्मपुर उतरी जिलापरिषद प्रतिनिधि दिनेश तिवारी,अनुज सिंह,विनोद सिंह,जिलाध्यक्ष माधुरी कुँवर,वैष्णवी क्लार्क होटल के प्रोपराइटर प्रदीप राय, समाजसेवी कृष्णानंद सिंह उर्फ छोटे सिंह,वीर कुँवर सिंह फाउंडेशन के चेयरमैन निर्मल कुमार सिंह,राजू यादव,पप्पू सिंह,भानु सिंह सहित जिले के कई प्रतिष्ठित लोग शामिल हैं।

Leave a Reply