October 4, 2022

Up News : 4:30 करोड़ का गबन, तीन पर नामजद रिपोर्ट दर्ज

Up News : 4:30 crore embezzlement, three named report filed

हिमांशु सिंह की रिपोर्ट

फतेहपुर: क्या आपने किसी गांव में करोड़ों के गबन की बात सुनी है?? शायद नहीं!! हम बताते हैं आपको एक ऐसे ही मामले के बारे में मामला है, फतेहपुर जिले के देवमई ब्लॉक के, रसूलपुर ग्राम सभा का, जहां पर याचिकाकर्ता ने यह आरोप लगाया है, की गत पंचवर्षीय में पूर्व प्रधान, ग्राम विकास अधिकारी एवं पंचायत मित्र ने विकास कार्यों के नाम पर सरकारी धन का फर्जी तरीके से भुगतान करवाया है।

बकेवर थाने की पुलिस ने सीजेएम कोर्ट के आदेश पर पूर्व प्रधान दिनेश कुमार दीक्षित निवासी रसूलपुर बकेवर, जितेंद्र कुमार ग्राम विकास अधिकारी एवं सत्येंद्र कुमार पंचायत मित्र के खिलाफ रिर्पोट दर्ज की है। याचिकाकर्ता का नाम श्री राम वादी है जो की सामाजिक कार्यकर्ता हैं।जानकारी के मुताबिक गत पंचवर्षीय (2015-20-2021) में प्रधान बने दिनेश कुमार दीक्षित ने वी.डि.यो जितेंद्र कुमार एवं पंचायत मित्र सत्येंद्र कुमार के साथ मिलकर विभिन्न प्रकार के विकास कार्यों को कागजी तौर पर दिखा कर करोड़ों के सरकारी धन का गबन किया है।

2019-20 में रोड एवं आवास योजना के नाम पर तकरीबन 16 लाख रुपए, 2019 में अप्रैल मई में 90 हजार रुपए, एक लाख रुपए अक्टूबर-नवंबर में में खड़ंजा निर्माण के नाम पर कई अन्य कामों के नाम पर जैसे कभी तालाब खुदवाने के नाम पर धन निकलवाना, कभी हैंडपंप लगवाने के नाम पर कुल 50 से अधिक हैंडपंपों का धन निकलवाना नई नालियों के निर्माण के लिए धन निकलवाना हर वर्ष कई विकास कार्यों के नाम पर कुल मिलाकर अनुमानित तौर पर 4:30 करोड़ का भुगतान सरकारी खाते से कराया गया।।

वादी ने बताया कि जब मुझसे राइट टू इनफार्मेशन एक्ट के तहत सूचना मांगी गई जो कि हर आम आदमी का अधिकार है, उस पर उन्हे सूचना उपलब्ध नहीं कराई गई, साथ ही साथ बार-बार मांगने पर वि.डि.ओ एवं पंचायत मित्र द्वारा उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी गई, एवं सूचना देने के एवज में, 30 हजार रुपए मांगे।।जब वादी ने विरोध किया, तो उसे जान से मारने की धमकी भी दी, तब वादी ने थाने का रुख किया हैरत की बात तो तब हुई जब वहां भी मामला दर्ज़ नही किया गया, उसके बाद वादी ने 22 मार्च को एसपी से शिकायत की, कार्यवाही न होने पर उसने कोर्ट की शरण ली।।

Leave a Reply