October 4, 2022

VARANASI NEWS :दृष्टिहीनों को शिक्षा विहीन करती दिख रही है सरकार ,आंदोलन करने को मजबूर छात्र

VARANASI NEWS: Government seems to be devoid of education for the blind, students forced to agitate

प्रखर दुबे की रिपोर्ट

पूर्वांचल का एकमात्र अंध विद्यालय वाराणसी में है ।दुर्गाकुंड स्तिथ “हनुमान प्रसाद पोद्दार अंध विद्यालय “के संचालन में आ रही है आर्थिक बाधा। जिसके कारण सुचारू रूप से विद्यालय को
चला पाना वहाँ के ट्रस्टी के लिए मुश्किल हो गया है ।
श्री हनुमान प्रसाद पोद्दार स्मृति सेवा ट्रस्ट के संयुक्त सचिव अखिलेश खेमका का कहना है कि विद्यालय संचालन के लिए मिलने वाला सहयोग लगातार कम होता जा रहा है. सरकारी अनुदान के अलावा हर साल लाखों रुपये ट्रस्ट की ओर से विद्यालय के संचालन में लगाए जा रहे हैं।कोरोना काल में व्यवसाय ठप्प हो गया है। ऐसे में खुद से पैसे लगाना मुश्किल हो गया है।जिसके कारण अब विद्यालय के संचालन में अवरोध उत्पन्न हो रहे है ।

छात्रों का सड़क पर प्रदर्शन लगातार जारी

अंध विद्यालय के छात्र लगातार अपना विरोध प्रदर्शन सड़क पर आकर कर रहे है ।दुर्गा मंदिर के बाहर ही छात्रों ने अपना डेरा जमाया हुआ है ।काफी लंबे वक़्त से छात्रों ने अनशन के ज़रिये अपनी बात सामने रखने की कोशिश की है पर किसी प्रकार की सुनवाई या कोई आदेश जारी नहीं किया गया है ।

सरकारी अधिग्रहण की है मांग

छात्रों से बातचीत में यह बात सामने आयी है के सभी छात्र यह चाहते है कि सरकार द्वारा पूर्ण रूप से विद्यालय का अधिग्रहण हो जाना चाहिए जिससे सभी छात्रों की परेशानी जल्द से जल्द दूर हो । छात्रों ने यह भी कहा कि सरकार द्वारा की गयी फंडिंग से भी छेड़छाड़ की गयी है ।

मीडिया हाउसेस ने भी नहीं दी कवरेज

छात्रों ने अपने बयान में यह भी कहा कि तमाम मीडिया हाउसेस के पत्रकार आकर उनसे साक्षात्कार तो कर रहे है परंतु अब तक किसी प्रकार की सरकारी मदद या सरकार तक इन बातों को नहीं पहुँचाया गया है ।ऐसे में हमारे संघर्षों पर जल्द से जल्द ध्यान दिया जाये और इसपे सरकार जल्द से जल्द कोई सुनवाई करे ।

प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में इस प्रकार की लापरवाही

माननीय प्रधानमंत्री जी का संसदीय क्षेत्र होने के बावजूद वाराणसी में इन लाचारों की गुहार सुन ने वाला कोई नहीं है। अंध विद्यालय का संचालन निसंदेह महामारी के मार से भी प्रभावीत हुआ है,परंतु इनकी मांग पे सुनवाई हो जानी चाहिए ।पिछले 1 महीने से लगातार प्रदर्शन जारी है छात्रों का और तो और माननीय मुख्यमंत्री जी भी हाल ही में बाढ़ से आये संकट का जायज़ा लेकर गए है परंतु इनकी पुकार किसी ने नहीं सुनी या उन तक कोई नहीं पंहुचा ।

Leave a Reply