June 23, 2024

क्‍या है सरकार की रूफटॉप सोलर स्‍कीम? एक करोड़ पर‍िवारों को होगा 18000 रुपये का फायदा

PM Suryoday Yojana, Rooftop Solar Scheme Details

PM Suryoday Yojana : भारत सरकार ने देश के एक करोड़ घरों में अगले कुछ महीनों में रूफटॉप सोलर प्लांट लगाने का लक्ष्य तय किया है. सोमवार को पीएम मोदी ने अयोध्या से लौटने के बाद कहा, ‘मैंने पहला निर्णय लिया है कि हमारी सरकार 1 करोड़ घरों पर रूफटॉप सोलर लगाने के लक्ष्य के साथ ‘प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना’ प्रारंभ करेगी. इससे गरीब और मध्यम वर्ग का बिजली बिल तो कम होगा ही साथ ही भारत ऊर्जा के क्षेत्र में भी आत्मनिर्भर बनेगा.’

ऐसे में माना जा रहा है कि अब ‘प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना’ के तहत यह स्कीम आगे बढ़ेगा. ऐसे में आप भी अपने घरों में रूफटॉप सोलर प्लांट लगाना चाहते हैं तो यह मौका हाथ से न जानें दें. क्योंकि, इस स्कीम से लोगों की आय तो बढ़ेगी ही साथ में बिजली की भी बचत होगी.

यह भी पढ़े : Sahara India Refund List 2024 : अगर आपका भी लिस्ट में है नाम तो मिल जायेगा पूरा पैसा वापस, यहां से चेक करे नाम

Rooftop Solar Scheme Details

1 फरवरी को पेश क‍िये गए अंतर‍िम बजट में व‍ित्‍त ने एक करोड़ पर‍िवारों को बड़ी राहत दी है. इस दौरान ‘रूफटॉप सोलर स्‍कीम’ (Rooftop Solar Scheme) के लिए 10000 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है. इसके तहत एक करोड़ परिवारों को हर महीने 300 यूनिट तक फ्री बिजली म‍िल सकेगी. इससे उन्‍हें सालाना 18000 रुपये का फायदा होगा.

व‍ित्‍त मंत्री ने सीतारमण ने बजट पेश करते हुए कहा कि छतों पर सोलर यून‍िट लगाने से एक करोड़ परिवार हर महीने 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली पा सकेंगे. आपको बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ दिन पहले छतों पर सौर ऊर्जा इकाई लगाने के लक्ष्य के साथ ‘प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना’ शुरू करने का ऐलान क‍िया था.

इलेक्ट्रिक व्‍हीकल की चार्जिंग में म‍िलेगी मदद

भारत वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण के दौरान कहा ‘मुफ्त सोलर एनर्जी के इस्तेमाल और बची हुई बिजली ड‍िस्‍ट्रीब्‍यूशन कंपनियों को बेचने से हर साल 18,000 रुपये तक की बचत होगी.’ इस स्‍कीम के जर‍िये इलेक्ट्रिक व्‍हीकल की चार्जिंग में भी मदद म‍िलेगी.

वित्त मंत्री ने वर्ष 2070 तक जीरो कार्बन उत्‍सर्जन के लक्ष्‍य का जिक्र करते हुए कहा कि प्रोजेक्‍ट को पूरा करने के ल‍िए सरकार की तरफ से व‍ित्‍तीय मदद की जाएगी. सेंट्रल इलेक्‍ट्र‍िस‍िटी अथॉर‍िटी के आंकड़ों के अनुसार, देश में सोलर एनर्जी की इंस्‍टॉल्‍ड कैप‍िस‍िटी अभी 73 गीगावाट से ज्‍यादा है.

यह भी पढ़े : 2024 में आयी सरकारी नौकरियों की भरमार, 1 लाख से ज्यादा पदों पर होगी भर्ती

बिजली बेचकर होगी आमदनी (PM Suryoday Yojana)

पीएम सूर्योदय योजना (PMSY) केंद्र सरकार की तरफ से शुरू की गई महत्वाकांक्षी योजना में से एक है. इस योजना का मकसद देश में सोलर एनर्जी के उपयोग को बढ़ावा देना है. पीएमएसवाई देश को ऊर्जा के पारंपरिक सोर्स पर निर्भरता कम करने और ऊर्जा सुरक्षा में सुधार करने में मदद करेगी. योजना से देश की जनता को बिजली ब‍िल पर पैसे बचाने और अतिरिक्त बिजली बेचकर आमदनी करने में मदद म‍िलेगी.

योजना के फायदे

केंद्र सरकार की तरफ से पीएमएसवाई (PMSY) के तहत सोलर पैनल लगाने के लिए सब्सिडी दी जाएगी. सब्सिडी का फायदा लेने के ल‍िए आवेदक को तय मानकों को पूरा करना होगा. पीएमएसवाई के तहत सोलर पैनल लगाने के लिए इनकम टैक्‍स और जीएसटी में भी छूट देने का प्रावधान है. सोलर पैनल के जर‍िये होने वाले ब‍िजली प्रोडक्‍शन से लोगों को ब‍िल के पैसे बचाने में मदद म‍िलेगी. ज‍िसके पास अतर‍िक्‍त ब‍िजली होगी, वह इसको डिस्कॉम को बेच सकते हैं. इससे आर्थ‍िक रूप से फायदा होगा.

कौन-कौन कर सकता है आवेदन

  • आवेदक भारत का नागरिक / संस्था हो
  • आवेदक के पास अपनी छत / माल‍िकाना हक हो
  • छत / मकान मजबूत और सोलर पैनल लगाने के लिए उपयुक्त हो
  • आवेदक के पास बिजली का कनेक्शन होना चाहिए.

एक करोड़ घरों में लगाने का लक्ष्य (PM Suryoday Yojana)

पीएम सूर्योदय योजना के तहत सामान्य कैटेगरी के आवेदकों को 3 किलो वाट तक 18000 रुपये प्रति किलो वाट की सब्सिडी मिल रही है. स्पेशल कैटगरी के आवेदकों को 20000 रुपये प्रति किलो वाट छूट मिल रही है. बता दें कि यह सब्सिडी केवल 10 किलो वाट तक रूफटॉप सोलर प्लांट के लिए है.

देश में एक सोलर प्लांट लगाने के लिए सब्सिडी के बाद तकरीबन 70-80 हजार से एक लाख रुपये तक खर्चा आता है. ऐसे में अगर केंद्र सरकार और राज्य सरकार की सब्सिडी के बाद भी आपके पास पैसा नहीं है तो आप बैंक से लोन लेकर भी यह बिजनेस शुरू कर सकते हैं.