May 30, 2024

Team India Record in World Cup : टीम इंडिया का वर्ल्ड कप नॉकआउट मैचों में कैसा रहा है प्रदर्शन? 1975 से 2023 तक ये रहे आंकड़े

India Record in World Cup

India Record in World Cup : वर्ल्ड कप 2023 भारत की मेजबानी में खेला जा रहा आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप 2023 (World Cup 2023) लीग चरण के बाद अब सेमीफाइनल तक पहुंच चुका है. भारत के साथ साथ साउथ अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड खिताब नाम करने के लिए जंग लड़ रही हैं. भारतीय टीम की मुकाबला वर्ल्ड कप 2019 में हार का मुंह दिखाने वाले न्यूजीलैंड टीम से होगी. 2011 के बाद से टीम लगातार दो वर्ल्ड कप में नॉकआउट मैच हारकर बाहर हुई है. आइए एक नजर डालते हैं इंडिया के वर्ल्ड कप इतिहास में नॉकआउट मुकाबलों में प्रदर्शन पर.

1983 का वो ऐतिहासिक मुकाबला (India Record in World Cup)

सन 1975 में पहली बार क्रिकेट वर्ल्ड कप (World Cup) हुआ. इस टूनामेंट भारत नॉकआउट मुकाबलों तक पहुंचने मे कामयाब नहीं हो पाया था. अगर बात करे 1779 वर्ल्ड कप का तो भारत लीग मैच खेलकर ही टूर्नामेंट से बाहर हो गया. 1983 वर्ल्ड कप में भारत के लाजवाब प्रदर्शन ने टीम को पहला वर्ल्ड कप खिताब जिताया. दिग्गज क्रिकटर कपिल देव की कप्तानी में टीम इंडिया ने सेमीफाइनल में इंग्लैंड को हराया. इसके बाद फाइनल में दो बार की वर्ल्ड चैंपियन टीम वेस्टइंडीज को धूल चटाकर खिताब अपने नाम किया था.

यह भी पढ़े : वनडे हिस्ट्री की ये 4 सर्वश्रेष्ठ पारियां, ऑस्ट्रेलियन खिलाडी ग्लेन मैक्सवेल ने तो कपिल देव की याद दिला दी

1987-1996 में सामना करना पड़ा हार

1983 में विजयी बनने के बाद 1987 में भी भारतीय टीम ने सेमीफाइनल तक का सफर तय किया, लेकिन इंग्लैंड ने मुंबई के वानखेड़े में भारत को हराकर टूर्नामेंट से बाहर कर दिया. वहीं अगर बात करे 1992 वर्ल्ड कप में भारत टीम राउंड रोबिन स्टेज से ही बाहर हो गई है. अगर बात करे 1996 वर्ल्ड कप में टीम की एक बार फिर ट्रॉफी जीतने की उम्मीदें जगीं, जब भारत ने सेमीफाइनल में जगह बनाई, लेकिन इस मैच में हार का सामना करना पड़ा.

हुआ यूं कि सेमीफाइनल में श्रीलंका से मिले 252 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत के 120 रन पर 8 विकेट गिर चुके थे. इस खराब प्रदर्शन पर ईडन गार्डन्स में बैठे दर्शक भड़क (Team India Record in World Cup) उठे और आगजनी करने लगे. इसकी वजह से अंपायरर्स को मैच रद्द करना पड़ा और श्रीलंका को विजेता घोषित किया गया. 1999 में टीम इंडिया सुपर सिक्स तक ही पहुंच पाई और टूर्नामेंट से बाहर हो गई.

2003 फाइनल में हार, 2011 में रचा इतिहास

अब अगर बात किया जाये 2003 वर्ल्ड कप में सौरव गांगुली की कप्तानी में टीम ने सेमीफाइनल में केन्या को हराकर फाइनल में जगह जरूर बनाई, लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने इस मुकाबला को अपने नाम कर लिया। 2007 वर्ल्ड कप राहुल द्रविड़ की कप्तानी में किसी बुरे सपने से कम नहीं रहा.

खिताब जीतने की दावेदार मानी जा रही टीम इंडिया ग्रुप स्टेज के मुकाबले खेलकर ही बाहर हो गई. इसके बाद 2011 में अपनी सरजमीं पर भारत ने जो वापसी की उसका पूरी दुनिया (Team India Record in World Cup) ने गुणगान किया. भारत ने 28 साल बाद वर्ल्ड कप का खिताब अपने नाम किया. कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का वो विनिंग सिक्स इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गया.

2015-2019 में सेमीफाइनल में हार (India Record in World Cup)

भारतीय टीम ने 2011 वर्ल्ड कप वाला फॉर्म जारी रखते हुए 2015 में भी बेहतरीन मुकाबला खेला. किंग कोहली की कप्तानी में भारत सेमीफाइनल तक का सफर तय करने में कामयाब रहा, लेकिन इस टूनामेंट में भी ऑस्ट्रेलिया ने एक बार फिर खिलाड़ियों और भारतीय फैंस का दिल तोड़ दिया.

टीम को 95 रन से हार का सामना झेलनी पड़ी. अब अगर बात करे 2019 वर्ल्ड में फिर टीम ने खिताब जीतने की हूंकार भरी. रोहित शर्मा ने इस टूर्नामेंट में इतिहास रचते हुए 5 शतक (India Record in World Cup) जड़े. लीग मैचों में भारत का दबदबा रहा, लेकिन सेमीफाइनल में टीम इंडिया को न्यूजीलैंड से मिली 18 रन से हार के साथ ही टीम का वर्ल्ड कप जीतने का सपना एक बार फिर टूटा.

2023 वर्ल्ड कप में भारत का प्रदर्शन

भारत ने आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2023 में शानदार प्रदर्शन किया, लेकिन 15 नवंबर को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ छह विकेट से उन्हें हार का सामना करना पड़ा और इस तरह भारत का वर्ल्ड कप का खिताब जीतने का सपना अधूरा रह गया। 241 रनों का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए महज 43 ओवर में ही इस लक्ष्य को अपने नाम कर लिया। ऑस्ट्रेलिया की तरफ ट्रैविस हेड और मार्नस लाबुशेन के बीच 192 रनों की साझेदारी ने भारत के मंसूबे पर पानी फेर दिया।

Leave a Reply