कटिहार : बिहार के कटिहार में 4 हाथ-पैर वाले बच्चे का जन्म:जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ, लोगों ने कहा – भगवान का अवतार बिहार के कटिहार जिला के कटिहार के सदर अस्पताल में कुदरत का अद्भुत करिश्मा देखने को मिला है । इस करिश्मे को लोग कलयुग में भगवान का अवतार मानने लगे।

एक गर्भवती महिला ने एक अजीबो गरीब बच्चे को जन्म दिया है जिसे लोग भगवान का अवतार कह रहे हैं। दरअसल, सदर अस्पताल के प्रसूता विभाग में एक मां ने चार हाथों और चार पैरों वाले स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया है। बड़ी बात है कि जन्म के बाद जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं।

इस नवजात को जन्म देनेवाली मां मुफ्फसिल इलाके के हफ्लागंज गांव की है। उसके पिता राजू साह खुद भी हैरान हैं। उसने बताया कि जांच के दौरान हुए अल्ट्रासाउंड में इन कठिनाइयों के संदर्भ में कभी कोई रिपोर्ट ही नहीं आई।

साथ ही उन्होंने कहा कि प्रसव से पहले वो डॉक्टर से भी मिले थे लेकिन डॉक्टर ने भी उन्हें कुछ नहीं बताया कि गर्भ में पल रहे नवजात की स्थिति क्या है। पिता ने कहा कि डॉक्टर ने कभी नहीं बताया कि गर्व में पल रहे बच्चे की क्या स्थिति है वह कहते थे की सब ठीक है।

वही इस बारे में सदर अस्पताल की डॉक्टर शशि किरण ने कहा कि इसे अदभुत नहीं, फिजिकली दिव्यांग कहेंगे। उन्होंने ने कहा कि यह बच्चा दिव्यांग है और गर्भावस्था के दौरान किसी कारणवश ऐसे बच्चे का जन्म हुआ है। इसे ऑपरेशन कर प्रसूता के शरीर से बाहर निकाला गया है। ताकि मां और बच्चे दोनो सुरक्षित रहे साथ ही उन्होंने कहां की अभी मां और बच्चे दोनो पूरी तरह से सुरक्षित है किसी को कोई खतरा नही गई।

अस्पताल में इस नवजात की देखरेख करनेवाली वृद्ध कलावती का कहना है कि यह क़ुदरत का करिश्मा है। कलयुग में भगवान के अवतार ने जन्म लिया है। वही बच्चे को देखने के लिए काफी लोग आ रहे है हर कोई कुछ कहता है कोई कहता है की दिव्यांग है तो कोई भगवान का दर्जा दे रहा है तो कोई कुछ कह रहा है।

Leave a Reply