October 4, 2022

पाकिस्तान में 124 किमी अंदर गिरी भारतीय सेना की मिसाइल, रक्षा मंत्रालय ने कहा- गलती से हुई दुर्घटना

इस्लामाबाद। 9 मार्च 2022 को भारत की एक मिसाइल पाकिस्तान के इलाके में 124 किमी अंदर गिरी। इस घटना के बाद अलग-अलग तरह की बातें कही जा रही थीं। हालांकि, रक्षा मंत्रालय ने इसे एक्सीडेंट फायरिंग माना है।

रक्षा मंत्रालय ने शुक्रवार शाम जारी बयान में कहा कि रूटीन मेंटेनेंस के दौरान टेक्निकल कारणों से यह मिसाइल फायर हो गई थी। सरकार ने कोर्ट ऑफ इन्क्वॉयरी के आदेश जारी किए हैं। हालांकि, राहत की बात ये है कि इस एक्सीडेंटल फायरिंग में किसी की मौत नहीं हुई। 

पाकिस्तानी सेना ने लगाया था मिसाइल फायर करने का आरोप 
पाकिस्तानी सेना के मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने गुरुवार को इस घटना का खुलासा किया था। बाबर ने आरोप लगाया था कि भारत के सिरसा की तरफ से ये मिसाइल पाकिस्तान पर दागी गई। बाबर ने कहा कि आप इसे सुपर सोनिक फ्लाइंग ऑब्जेक्ट या मिसाइल कह सकते है।

इसमें किसी तरह का हथियार या बारूद नहीं था। इस वजह से जनहानि या कोई नुकसान नहीं हुआ है। इससे पहले पाकिस्तानी मीडिया में भारत का एयरक्राफ्ट क्रैश होने की बात कही गई थी। 

तीन मिनट में हिंदुस्तान से पाक पहुंची थी मिसाइल 
पाकिस्तानी सेना के मेजर जनरल बाबर ने कहा कि 9 मार्च की शाम 6:43 बजे भारत से पाकिस्तान की तरफ मिसाइल दागी गई थी। यह महज तीन मिनट में भारत से पाकिस्तान पहुंच गई और मियां चन्नू इलाके में गिरी। पाकिस्तान का कहना है कि उनके एयर डिफेंस सिस्टम ने इसे पकड़ लिया। लेकिन तब तक यह 124 किमी दूरी तय कर चुकी थी। इस मिसाइल से कुछ घरों को नुकसान हुआ है।  


हवाई यात्रियों के लिए हो सकता था खतरा
पाकिस्तानी सेना के मेजर जनरल बाबर ने कहा कि पाकिस्तान इस खुलेआम उल्लंघन का कड़ा विरोध करता है और भविष्य में ऐसी किसी भी घटना की पुनरावृत्ति के खिलाफ आगाह करता है। पाकिस्तानी वायु सेना के अधिकारी एवीएम तारिक जिया ने कहा कि यह 40,000 फीट की ऊंचाई पर उड़ रही थी.

कई कॉमर्शियल फ्लाइट्स उस उसमय 35,000 से 42,000 फीट के बीच थीं। ऐसे में यह यात्रियों की सुरक्षा के लिए बहुत हानिकारक हो सकता था। 

Leave a Reply