October 4, 2022

सुनंदा पुष्कर मौत मामले में शशि थरूर बरी, सबूतों के अभाव में आरोप ख़ारिज

Shashi Tharoor acquitted in Sunanda Pushkar death case, charges dismissed for lack of evidence

टि्वंकल वाधवानी की रिपोर्ट

दिल्ली की अदालत ने सबूतों की कमी के आधार पर कांग्रेस नेता शशि थरूर को उनकी पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत के मामले में सभी आरोपों से बरी कर दिया है।

क्या था मामला?

सुनंदा पुष्कर 17 जनवरी 2014 को दिल्ली के एक पांच सितारा होटल में मृत पाई गई थी। 2015 को उनके मामले में एफआईआर दर्ज की गई थी और 2018 में उनके पति शशि थरूर पर 498 ए के तहत वैवाहिक क्रूरता, 306 के तहत आत्महत्या के लिए उकसाना और 302 के तहत हत्या का आरोप लगाया गया था। लेकिन उन्हें गिरफ्तार नहीं किया गया था और 5 जुलाई 2018 को जमानत दे दी गई थी।

मौत और हत्या के बीच चल रहा था अंतर्द्वन्द्व

शुरुआत में सुनंदा पुष्कर की मौत को आत्महत्या माना गया था, पर बाद में दिल्ली पुलिस ने इसे हत्या बताया था। लेकिन किसी को संदिग्ध करार नहीं कहा। इस मामले में थरुर ने अपने पत्नी के मौत को न तो आत्महत्या बताया और न ही हत्या। उनके अनुसार यह एक आकास्मिक मौत थी।

शशि थरुर ने जताया आभार

यह मामला अदालत द्वारा कई दफा टाल दिया गया था, परंतु अब अदालत ने शशि थरुर पर लगाए सभी आरोपों को खारिज़ कर दिया है। शशि थरूर ने अदालत से बरी होने के आदेश के बाद एक बयान जारी कर न्यायाधीश गीतांजलि गोयल का आभार व्यक्त किया है।

Leave a Reply